आज श्रृंगेरी श्रीनिवास के लिए वार्षिक बाल कटवाने का दिन है, लेकिन किसी के पास अपने बाल काटने का समय नहीं है.आगे क्या होगा?
… कहानी केवल बालगाथा हिंदी पर सुनें|
Today is the day of annual haircut for Sringeri Srinivas but no one has time to cut his hair..what will we do now…Listen to the story only on baalgatha podcast.

अब आप ऐपल पॉडकास्ट, Google पॉडकास्ट, स्टिचर, स्पॉटिफ़ाई, जीयो सावन, कास्टबॉक्स, स्टोरियोह, और कई अन्य वेबसाइटों और ऐप्स पर आप बालगाथा हिंदी पॉडकास्ट सुनते हैं।
You can subscribe to Baalgatha Podcast on Apple Podcasts, Google Podcasts, Storiyoh, Stitcher, Castbox, Radio Public,  Spotify, and other fine websites and apps where you listen to podcasts.
This story  was made possible by Pratham Books’ StoryWeaver platform. Content under Creative Commons licenses 4.0 and the story is narrated by Sheerali Biju

हमारी पिछली कहानियों से एक कहानी सुनिए लकड़हारा और देवदूत

Leave a Reply